Monday, 9 March 2009

Mahatma Gandhi ( युग पुरष )


के परिवेश में यदि हर भारतवासी महात्मा गाँधी के विचरो को अपने जीवन में अपना कर सचे मन से उन का अनुसरण करेगा तो मेरा अटूट विश्वास है कि जो आज विश्व में हर क्षेत्र में बढ़ रही अराजकता तथा तनाव का जो साम्राज्य पनपा हुआ है उसे दूर किया जा सकता है। आइये महात्मा के पद चिह्नों पर चल कर तो देखे। इस महान तपस्वीं और युग पुरष को जीवन का आदर्श बनाये. केवल अपने स्वार्थ के लिए ही इन का नाम इस्तेमाल न करे।














No comments:

Post a Comment